विश्व साक्षरता दिवस की शुरुआत कब और क्यों हुई ? विश्व साक्षरता दिवस पहली बार कब मनाया गया? हम विश्व साक्षरता दिवस कैसे मना सकते हैं ?


विश्व साक्षरता दिवस की शुरुआत कब और क्यों    हुई ?  विश्व साक्षरता दिवस पहली बार कब मनाया गया? हम विश्व साक्षरता दिवस कैसे मना सकते हैं ?

किसी भी देश की उन्नति के लिए बहुत जरूरी है कि उस देश के नागरिक साक्षर हों । किसी देश के नागरिक जितने ज्यादा साक्षर होंगे उतने ही समझदार होंगे और उस देश की उन्नति में उतना ही हाथ बटाएंगे । किसी कार्य को सिद्ध करने के लिए हर वर्ष अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस मनाया जाता है । चलिए जानते हैं विश्व साक्षरता दिवस की शुरुआत कब और क्यों हुई ? विश्व साक्षरता दिवस पहली बार कब मनाया गया? हम विश्व साक्षरता दिवस कैसे मना सकते हैं ?

साक्षरता क्या है और इसका महत्व क्या है?

साक्षरता का अर्थ है, साक्षर होना मतलब वह व्यक्ति जो पढ़ने व लिखने  में सक्षम हो साक्षर कहलाता है ,व्यवहारिक रूप में हम कह सकते हैं कि जो व्यक्ति अपना अच्छा बुरा जानता हो, जो व्यक्ति अपनी लाभ हानि का ज्ञान रखता हो, वही साक्षर है ,जो व्यक्ति अपने आसपास की गतिविधियों पर सोच विचार कर सकता है, वही साक्षर है । साक्षरता का अर्थ है निपुणता जो आपको अच्छी नौकरी व जीवन यापन करने में सक्षम बनाती है।

विश्व साक्षरता दिवस  कब मनाया जाता   है ?

विश्व साक्षरता दिवस दुनिया भर में 8 सितंबर को मनाया जाता है। पहली बार विश्व साक्षरता दिवस 1966 में मनाया गया । यूनेस्को ने 17 नवंबर 1965 को अंतरराष्ट्रीय साक्षरता  दिवस मनाने का फैसला किया था ।

विश्व साक्षरता दिवस क्यों मनाया जाता है?

किसी भी समाज  की उन्नति के लिए साक्षरता जरूरी है ।एक साक्षर समाज ही अपने अधिकारों व कर्तव्यों का ज्ञान रखता है ।अतः लोगों को साक्षरता की ओर प्रेरित करना जरूरी है ,इसी लक्ष्य से साक्षरता दिवस मनाया जाता है।

हम विश्व साक्षरता दिवस कैसे मना सकते हैं ?

किसी भी साक्षर व्यक्ति द्वारा साक्षरता दिवस निम्नलिखित तरीकों से मना सकते हैं।

1.किताबों का दान करके।
2.किताबों को गिफ्ट स्वरूप देकर।
3.अपने गांव, देहात या शहर में किसी भी तरह की लाइब्रेरी स्थापित करके।
4.पढ़ाई लिखाई से संबंधित प्रतियोगिता आयोजित की जा सकती है।
5. साक्षरता साक्षरता से संबंधित लेक्चर लिए जा सकते हैं।



When and why did World Literacy Day start? When was World Literacy Day observed for the first time? How can we celebrate World Literacy Day?


For the progress of any country it is very important that the citizens of that country should be literate. The more literate the citizens of a country, the more intelligent they will be and the more they will contribute to the progress of that country. International Literacy Day is celebrated every year to accomplish this task. Let us know when and why the World Literacy Day started? When was World Literacy Day observed for the first time? How can we celebrate World Literacy Day?


What is literacy and what is its importance?


Literacy means, to be literate ,this means that ,a person who is able to read and write is called literate, in practice we can say that the person who knows his good and bad, the person who knows his profit and loss, he is literate. A person who can consider the activities around him, he is literate. Literacy means skill which enables you to get a good job and make a living.


When is World Literacy Day celebrated?


World Literacy Day is celebrated across the world on 8 September. World Literacy Day was first celebrated in 1966. UNESCO had decided to celebrate International Literacy Day on 17 November 1965.


Why is World Literacy Day celebrated?

Literacy is necessary for the  progress of a nation. Only a literate society has knowledge of its rights and duties. Therefore it is necessary to motivate people towards literacy, with this goal Literacy Day is celebrated.


How can we celebrate World Literacy Day?


Literacy day can be celebrated by any literate person in the following ways.

1.   By donating books.
2.   Giving books as a gift.
3. By setting up any kind of library in your village, countryside or city. 
4. Competition related to writing can be organized.
5. Literacy Lectures related to literacy can be taken.

अन्य पढ़ें 





टिप्पणियाँ

फ़ॉलोअर

कुल पेज दृश्य